NASA के मून मिशन ‘आर्टेमिस-1 की लॉन्चिंग की तैयारी

305

कैनेडी स्पेस सेंटर में अगली पीढ़ी के रॉकेट आर्टिमिस को चंद्रमा की यात्रा पर भेजने के तीसरे प्रयास की तैयारी चल रही है. अमेरिकी स्पेस एजेंसी नासा अपने मून मिशन ‘आर्टेमिस-1’ को आज तीसरी बार लॉन्च करने की कोशिश करेगी. रॉकेट भारतीय समयानुसार सुबह 11.34 बजे फ्लोरिडा के केनेडी स्पेस सेंटर से उड़ान भरेगा. इससे पहले 29 अगस्त और 3 सितंबर को भी लॉन्चिंग के प्रयास किए गए थे. हालांकि तकनीकी गड़बड़ी और मौसम खराब होने के चलते ये कामयाब नहीं हुए थे. अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा के लिए अगली पीढ़ी के रॉकेट आर्टिमिस की यह चंद्रमा के लिए पहली उड़ान होगी.

परेशानी आने पर 19 या 25 नवंबर को होगी लॉन्चिंग

इससे पहले चंद्रमा पर 50 साल पहले अपोलो मिशन भेजा गया था. 32 मंजिल के बराबर ऊंचाई वाले अंतरिक्ष लांच सिस्टम (एसएलएस) रॉकेट को फ्लोरिडा के केप केनावरल से रवाना होना है. नासा के मुताबिक, हाल ही में फ्लोरिडा में आए तूफान निकोल ने मिशन को नुकसान पहुंचाया है. स्पेसक्राफ्ट का एक पार्ट ढीला होकर निकल गया है. इसकी वजह से लिफ्ट ऑफ में दिक्कत जा सकती है. वैसे तो लॉन्च से पहले इसे फिक्स कर दिया जाएगा, लेकिन परेशानी आने पर नई तारीख 19 या 25 नवंबर तय की जाएगी.

इंसानों को चांद पर भेजने की तैयारी

अमेरिका 53 साल बाद एक बार फिर आर्टेमिस मिशन के जरिए इंसानों को चांद पर भेजने की तैयारी कर रहा है. इसे तीन भागों में बांटा गया है। आर्टेमिस-1, 2 और 3। आर्टेमिस-1 का रॉकेट चंद्रमा के ऑर्बिट तक जाएगा, कुछ छोटे सैटेलाइट्स छोड़ेगा और फिर खुद ऑर्बिट में ही स्थापित हो जाएगा

Previous articleपोलैंड पर मिसाइल वार, क्या होकर रहेगा थर्ड वर्ल्ड वार ?
Next articleMCD चुनाव में बीजेपी का धुंआधार प्रचार