नौसेना का तीन दिवसीय सम्मेलन-शीर्ष कमांडर करेंगे विचार विमर्श

281
Delhi: इंडियन नेवी का तीन दिवसीय सम्मेलन आज से शुरू हो रहा है.हिंद महासागर क्षेत्र में चीन की बढ़ी सैन्य ताकत के बीच इंडियन नेवी के शीर्ष कमांडर आज से शुरू हो रहे तीन दिवसीय सम्मेलन में भारत की समुद्री सुरक्षा चुनौतियों व्यापक चर्चा और समीक्षा करेंगे. यह सम्मेलन देश के समग्र आर्थिक विकास के लिए आवश्यक सुरक्षित समुद्री वातावरण के विकास की दिशा में कई अंतर-मंत्रालयी पहलों को आगे बढ़ाने के लिए वरिष्ठ सरकारी अधिकारियों के साथ नौसेना कमांडरों की संस्थागत बातचीत का अवसर प्रदान करेगा.

रक्षामंत्री, NSA ,चीफ ऑफ डिफेंस स्टॉफ,सेना प्रमुख, एयर चीफ करेंगे नौसेना कमांडरो से बातचीत

नौसेना सूत्रों  के अनुसार, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल, चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल अनिल चौहान, सेना प्रमुख जनरल मनोज पांडे और एयर चीफ मार्शल वीआर चौधरी सम्मेलन में नौसेना कमांडरों के साथ बातचीत करेंगे. सम्मेलन और NSA, सेना और भारतीय वायु सेना के प्रमुखों के साथ बातचीत का उपयोग परिचालन वातावरण का विश्लेषण करने, तीनों सेनाओं के बीच तालमेल के मुद्दे पर विचार-विमर्श करने और समुद्री बलों की तैयारी का आकलन करने के लिए भी किया जाएगा.

नीतिगत निर्णयों पर मंथन

नौसेना कमांडरों के इस द्विवार्षिक आयोजन में नौसेना प्रमुख एडमिरल आर. हरि कुमार की अध्यक्षता में भारतीय नौसेना का वरिष्ठ नेतृत्व पिछले 6 महीनों के दौरान किए गए प्रमुख परिचालन, सामग्री, रसद, मानव संसाधन, प्रशिक्षण और प्रशासनिक गतिविधियों की समीक्षा होगा. इसके आलावा जो महत्वपूर्ण नीतिगत निर्णयों पर विचार-विमर्श और निर्माण के लिए आपसी बातचीत का मसौदा तय होगा.
Previous articleकठुआ छात्र पिटाई मामले में एक शिक्षक गिरफ्तार
Next articleद्वारकाधीश के दर पर पीएम मोदी