ओडिशा रेल हादसे की CBI जांच की सिफारिश, राहुल गांधी ने न्यूयार्क से बोला BJP पर हमला  

312

भुवनेश्वर-राजनीतिक बयानबाजी के बीच साल के सबसे बड़े रेल हादसे की सीबीआई जांच की सिफारिश कर दी गई है. एक तरफ इस हादसे से देश के साथ विदेश भी मर्माहत है तो दूसरी तरफ इस हादसे पर जमकर राजनीति भी हो रही है. रेल मंत्री के इस्तीफे की मांग की जा रही है. उधर न्यूयार्क से कांग्रेस नेता राहुल गांधी बीजेपी पर निशाना साध रहे हैं. गौरतलब है उड़ीसा के बालासोर में बाहानगा बाजार रेलवे स्टेशन के पास शुक्रवार शाम करीब 7 बजे कोरोमंडल एक्सप्रेस मुख्य लाइन के बजाय लूप लाइन में प्रवेश करने के बाद वहां खड़ी एक मालगाड़ी से टकरा गई थी. इस हादसे की चपेट में बेंगलुरु-हावड़ा सुपरफास्ट एक्सप्रेस भी आ गई थी. इस दुर्घटना में कम से कम 275 लोगों की मौत हुई है.

हादसे की CBI जांच की सिफारिश

रेलवे ने रविवार को ड्राइवर की गलती और सिस्टम में खराबी से एक तरह से इनकार किया और संकेत दिया कि ओडिशा में ट्रेन दुर्घटना के पीछे इलेक्ट्रॉनिक इंटरलॉकिंग सिस्टम में संभावित तोड़फोड़ और छेड़छाड़ हो सकती है. इस दुर्घटना में कम से कम 288 लोगों की जान चली गई जिससे पीएम सहित पुरा देश मर्माहत है. रेलमंत्री अश्विनी वैष्णव ने हादसे की सीबीआई जांच कराने की सिफारिश की है. वैष्णव ने कहा है कि ओडिशा के बालासोर में शुक्रवार शाम हुए रेल हादसे की CBI जांच कराई जाएगी. एक्सीडेंट साइट का जायजा लेने के बाद रेल मंत्री ने हादसे की वजह इलेक्ट्रॉनिक इंटरलॉकिंग में बदलाव बताई है. वहीं रेलवे बोर्ड का कहना है कि सिग्नल में गड़बड़ी की वजह से हादसा हुआ।

51 घंटे के भीतर ट्रेन की आवाजाही शुरू

रेलमंत्री अश्विनी वैष्णव ने देर रात कहा कि, दोनों ट्रैक को बहाल कर दिया गया है. 51 घंटे के भीतर रविवार की रात 10 बजकर 40 मिनट पर पहली ट्रेन रवाना हुई. अभी से ट्रेन की आवाजाही शुरू हो गई है. एक्सीडेंट साइट पर ट्रैक मरम्मत का काम पूरा हो गया है. दो मेन लाइनों में पटरी का काम पूरा हो गया है. बिजली की लाइनों पर काम चल रहा है. रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने उस मालगाड़ी को रवाना किया और इस दौरान कई मीडियाकर्मी तथा रेलवे अधिकारी भी वहां मौजूद रहे, मालगाड़ी विशाखपटनम बंदरगाह से राउरकेला इस्पात संयंत्र जा रही है और उसी पटरी पर चल रही है जहां शुक्रवार को ट्रेन दुर्घटना हुई थी. अश्विनी वैष्णव ने ट्वीट किया, “क्षतिग्रस्त डाउन लाइन पूरी तरह ठीक हो गई है. खंड से पहली ट्रेन रवाना हुई”.

हादसे पर सियासत- राहुल गांधी ने न्यूयार्क से साधा बीजेपी पर निशाना

न्यूयॉर्क में भारतीय मूल के लोगों को संबंधित करते हुए कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा है कि, हमारे घर (देश) में एक समस्या है. भाजपा और RSS भविष्य देखने में असमर्थ हैं. उनसे अगर पूछा जाए कि ट्रेन दुर्घटना क्यों हुई तो वह कहेंगे कि कांग्रेस ने 50 साल पहले यह किया. उनकी पहली प्रतिक्रिया पीछे देखने वाली होती है… कांग्रेस के समय जब ट्रेन दुर्घटना हुई ती तब उस समय कांग्रेस ने यह नहीं कहा कि यह अंग्रेजों की गलती है इसलिए ऐसा हुआ. बल्कि उन्होंने (तत्कालीन रेल मंत्री) इस्तीफा दिया.

दुनिया भर में बालासोर दुर्घटना को लेकर शोक भारत के साथ कितनी जुड़ चुकी है दुनियाजयशंकर,MEA

नामीबिया में भारतीय समुदाय के साथ बातचीत में विदेश मंत्री डॉ एस. जयशंकर ने कहा कि, दुनिया भर से बहुत लोगों ने बालासोर दुर्घटना को लेकर शोक व्यक्त किया है. यह उदाहरण है कि आज की दुनिया कितनी वैश्वीकृत हो चुकी है, भारत के साथ कितनी जुड़ चुकी है कि दुनिया को लगा कि इस समय में उन्हें भारत का साथ देना चाहिए.

मौत के आंकड़ों पर ममता उठा रही सवाल, अनुराग ने दिया जवाब

ममता बनर्जी ने ट्रेन दुर्घटना के संबंध में रेल मंत्रालय द्वारा दिये गए आंकड़ों पर सवाल उठाते हुए कहा कि अकेले उनके राज्य के ही 61 लोगों की मौत हुई है और 182 अब भी लापता हैं. ममता ने कहा कल जब मैंने एंटी कोलिशन वाली बात का जिक्र किया तो रेल मंत्री चुप क्यों थे? दो तरह के बयान आ रहे हैं, दाल में कुछ काला है. मैं चाहती हूं जो सच है वह सामने आए मुझे रेल मंत्री का इस्तीफा नहीं चाहिए

केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने ओडिशा ट्रेन दुर्घटना में मरने वालों की आधिकारिक संख्या पर सवाल उठाने को लेकर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर रविवार को निशाना साधा और कहा कि किसी को भी इस त्रासदी पर राजनीति नहीं करनी चाहिए. केंद्रीय मंत्री ठाकुर ने महाराष्ट्र के ठाणे जिले के उल्हासनगर शहर में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि ओडिशा ट्रेन दुर्घटना दिल दहला देने वाली है।

हादसे में मौत के आधिकारिक आंकड़े पर पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्री द्वारा सवाल उठाने पर उन्होंने कहा, “ममता बनर्जी अपनी ‘ममता’ खो चुकी हैं। आंकड़े राज्य (ओडिशा) सरकार द्वारा दिए गए थे जहां भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) का शासन नहीं है.”

उन्होंने कहा कि ऐसी दुखद घटनाओं पर किसी को भी राजनीति नहीं करनी चाहिए.

अस्पतालों में घायलों का इलाज जारी- दिल्ली से एक्सपर्ट डॉक्टरों की एक टीम पहुंची

अस्पतालों में घायलों का बेहतर इलाज चल रहा है. लोग इस हादसे में घायल हुए या जान गंवाई उनके परिजन से संपर्क करने की कोशिश जारी है. दिल्ली से एक्सपर्ट डॉक्टरों की एक टीम AIIMS भुवनेश्वर पहुंची है। यह टीम 100 से ज्यादा क्रिटिकल मरीजों का इलाज करेगी.

परिजनों से शवों को ले जाने की अपील- रेलवे ने जारी की हेल्पलाइन नंबर

ओडिशा हादसे के बाद कुछ शवों को लेने अब तक कोई नहीं आया है. सरकार ने परिजनों से शव ले जाने की अपील की है. रेलवे ने अलग-अलग स्टेशन पर हेल्पलाइन नंबर जारी किए हैं. यहां लोग राहत-बचाव कार्य और मृतकों-घायलों के बारे में जानकारी ले सकते हैं.

इमरजेंसी कंट्रोल रूम: 6782262286

हावड़ा: 033-26382217

खड़गपुर: 8972073925, 9332392339

बालासोर: 8249591559, 7978418322

कोलकाता शालीमार: 9903370746