मुलायम सिंह यादव के स्वास्थ्य में गिरावट,सीआरआरटी सपोर्ट पर नेताजी

221

यूपी के पूर्व सीएम और पूर्व केंद्रीय रक्षामंत्री धरतीपुत्र मुलायम सिंह यादव के स्वास्थ्य में और गिरावट की खबर है. उन्हें किडनी में संक्रमण की समस्या बढ़ गई है  इसके बाद उन्हें इस समस्या के संबंध में सबसे एडवांस सपोर्ट पर रखा गया है और उपचार किया जा रहा है. मुलायम मेदांता मेडिसिटी हॉस्पिटल में डाक्टरों की गहन निगरानी में हैं. बताया जा रहा है कि मेदांता अस्पताल दोपहर 12 बजे के बाद सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव का हेल्थ बुलेटिन जारी कर सकता है.

CRRT Therapy सपोर्ट पर नेताजी

नेताजी को सीआरआरटी सपोर्ट पर रखे जाने की खबर है. मेदांता मेडिसिटी हॉस्पिटल सूत्रों के मुताबिक, उनकी किडनी में संक्रमण फैल गया है. इसकी वजह से शरीर में क्रिएटनिन लेवल अनियंत्रित हो रहा है. अब डॉक्टरों ने  सामान्य डायलिसिस की जगह उन्हें एडवांस कन्टिन्यूअस रीनल रिप्लेसमेंट थेरेपी (CRRT Therapy) सपोर्ट पर रखा  है. यह थेरेपी किडनी खराब होने पर सामान्य डायलिसिस के इलाज से बेहतर माना जाता है.

क्या है CRRT Therapy?

मरीज के शॉक में होने पर डायलिसिस के बजाय सीआरआरटी मशीन का इस्तेमाल बेहतर रहता है, जो काफी एडवांस टेक्नॉलजी है. इसकी मशीन आईसीयू में मरीज को लगा दी जाती है. चिकित्सकों के मुताबिक नॉर्मल डायलिसिस मशीन एक मिनट में 500 एमएल ब्लड लेती है, वहीं सीआरआरटी मशीन से ब्लड की खपत कम होती है. इसके अलावा सामान्य डायलिसिस 2 से 4 घंटे में होती है, जबकि सीआरआरटी लगातार चलती रहती है। इससे शरीर में क्रिएटनिन का स्तर संतुलित करने में ज्यादा मदद मिलती है।  साथ ही किडनी के रिकवरी के चांस ज्यादा बढ़ जाते हैं.

गुड़गांव पहुंच रहे हैं नेता और कार्यकर्ता

सपा संरक्षक की तबियत में सुधार के लिए उनके पैतृक गांव सैफई समेत प्रदेश के विभिन्न जिलों में विशेष प्रार्थनाएं और दुआएं की जा रही हैं. इसके अलावा मुलायम सिंह की कुशलता जानने के लिए यूपी के विभिन्न जिलों से सपा कार्यकर्ताओं और नेताओं का मेदांता मेडिसिटी हॉस्पिटल आने का सिलसिला जारी है. विभिन्न दलों के प्रमुख नेता नेताजी से मिलने गुड़गांव पहुंच रहे हैं. यूपी के डिप्‍टी सीएम बृजेश पाठक ने मेदांता पहुंचकर मुलायम सिंह का हाल जाना. उन्‍होंने कहा कि यूपी सरकार नेताजी की सेहत को लेकर चिंतित है मुलायम के सघन चिकित्सा कक्ष तक जाने की अनुमति किसी को भी नहीं है. मुलायम सिंह यादव के परिवार वालों ने अपील की थी कि नेताजी ठीक हैं. यहां अस्पताल में उनसे मिलने न आएं. कार्यकर्ताओं और नेताओं की भीड़ को देखते हुए अस्पताल में सुरक्षा व्यवस्था भी पुख्ता की गई है. मुलायम सिंह के पुत्र अखिलेश अस्पताल में हीं डेरा डाले हुए हैं.

Previous articleमकर सक्रांति के बाद गर्भगृह में रामलला के होंगे दर्शन
Next articleमहाकाल कॉरिडोर उद्घाटन को तैयार,पीएम मोदी का इंतजार